Varanasi Me Ghumne Ki Jagah | वाराणसी में घूमने की जगह

दोस्तों इस पोस्ट में चलिए बात करते हैं वाराणसी में घूमने की जगह(Varanasi Me Ghumne Ki Jagah) के बारे में। 

बनारस या वाराणसी को घाटों के शहर के नाम से जाना जाता है यहाँ घूमने की बहुत सारी जगह है

वाराणसी के बारे में(About Varanasi)

वाराणसी को काशी या बनारस के नाम से भी जाना जाता है। 

यह दुनिया का सबसे पुराना शहर माना जाता है जो आज भी बसा हुआ है। 

यह शहर अपने तीर्थ स्थलों और पर्यटन स्थलों के लिए जाना जाता है। 

बनारस या वाराणसी शहर गंगा नदी के किनारे बसा हुआ है। 

और अपनी कला, संस्कृति, साहित्य और पौराणिक महत्व के लिए विख्यात है। 

अगर वाराणसी में घूमने की जगह(Varanasi Me Ghumne Ki Jagah) की बात करें तो यहाँ बहुत से पर्यटन स्थल और तीर्थ स्थल है। 

वाराणसी में घूमने की जगह(Varanasi Me Ghumne Ki Jagah)

वाराणसी में घूमने की बहुत सी जगह हैं। जो निम्नवत हैं-

  1. अस्सी घाट
  2. मणिकर्णिका घाट
  3. काशी विश्वनाथ मंदिर
  4. भारत माता मंदिर
  5. तुलसी मनसा मंदिर
  6. आलमगीर मस्जिद
  7. रामनगर किला और संग्रहालय
  8. सारनाथ
  9. दशश्वमेघ घाट
  10. नया काशी विश्वनाथ मंदिर

अस्सी घाट

Assi Ghat Varanasi me ghumne ki jagah hai
Assi Ghat Varanasi

वाराणसी में गंगा और अस्सी नदी के संगम पर स्थित यह घाट काशी का प्राचीनतम घाट है। 

शाम को यहाँ पर श्रद्धालुओं द्वारा आरती और पूजन किया जाता है। 

इस घाट पर शाम की आरती का नजारा देखने लायक होता है। 

अस्सी घाट वाराणसी रेलवे स्टेशन से दूरी मात्र 7 किलोमीटर है। 

घाट के पास पीपल के वृक्ष के नीचे एक शिवलिंग स्थापित किया गया है। 

यहाँ श्रद्धालुओं द्वारा भगवान शिव का पूजन किया जाता है। 

यहाँ पर बाबा जगन्नाथ का मंदिर बनाया गया है। 

मणिकर्णिका घाट

Manikarnika Ghat Varanasi me ghumne ki best jagah hai
Manikarnika Ghat Varanasi

वाराणसी में स्थित 84 घाटों में से यह प्रमुख घाट है। 

मणिकर्णिका घाट वाराणसी में घूमने की जगह में से एक प्रमुख जगह है। 

यह घाट अंतिम संस्कार के लिए शुभ माना जाता है। 

इसीलिए इस घाट पर आपको बहुत सी चिताएं जलती हुई मिलेगी। 

यहाँ कभी भी अग्नि शांत नहीं होती है।

काशी विश्वनाथ मंदिर

Kashi Vishwanath mandir Banaras me ghumne wali jagah hai
Kashi Vishwanath mandir Banaras

यदि आप वाराणसी की यात्रा पर जा रहे हैं तो बाबा विश्वनाथ के दर्शन के बिना आप की यात्रा अधूरी मानी जाएगी। 

बाबा विश्वनाथ मंदिर वाराणसी का प्रमुख तीर्थ स्थल है। 

यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। जो भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक है। 

इस मंदिर का उल्लेख ]हिंदुओं के कई प्रमुख ग्रंथों में हुआ है। 

इस मंदिर में प्रतिदिन औसतन 5000 लोग आते हैं। 

भारत माता मंदिर

Bharat Mata Mandir is the best tourist place in Varanasi
Bharat Mata Mandir Varanasi

इस मंदिर में आपको भारत से संबंधित बहुत सी जानकारियां मिलेंगे। 

इसलिए इसका नाम भारत माता मंदिर रखा गया है। 

यह मंदिर काशी विद्यापीठ में बना हुआ है। 

इस मंदिर में आपके पूरे भारत की संस्कृति की जानकारी का भी मौका मिलेगा। 

यह मंदिर शिव प्रसाद गुप्ता द्वारा बनवाया गया था। 

और इसका उद्घाटन महात्मा गांधी द्वारा किया गया था। 

तुलसी मानस मंदिर

Tulsi Manas Mandir varanasi me dekhne layak jagah hai
Tulsi Manas Mandir varanasi

भगवान राम को समर्पित यह मंदिर 1964 में बनकर तैयार हुआ था। 

तुलसी मानस मंदिर वाराणसी का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। 

इस मंदिर का निर्माण रामचरितमानस के रचयिता तुलसीदास के नाम पर किया गया है। 

सावन के महीने में इस मंदिर में कठपुतलियों का एक विशेष प्रदर्शन करवाया जाता है। 

यह प्रदर्शन रामायण से संबंधित होता है। 

यदि आप इस मंदिर में घूमने का उत्कृष्ट अनुभव लेना चाहते हैं तो सावन के महीने में ही आएं। 

आलमगीर मस्जिद

Alamgir masjid isone of the best tourist place in Varanasi
Alamgir masjid Varanasi

इस मस्जिद का निर्माण 17वीं सदी में औरंगजेब द्वारा करवाया गया था। 

आलमगीर मस्जिद वाराणसी में पर्यटन की एक प्रमुख जगह है। 

इस मस्जिद में सिर्फ इस्लाम धर्म के अनुयायियों को ही प्रवेश करने की अनुमति है। 

रामनगर किला और संग्रहालय

Ramnagar Kila & Museum is the best place to visit in Varanasi
Ramnagar Kila & Museum Varanasi

यह किला वाराणसी में तुलसी घाट के सामने स्थित है। 

अब यह किला एक खंडहर में तब्दील हो चुका है। 

मुगल वास्तुकला शैली में बना हुआ यह किला 1750 में राजा बलवंत सिंह द्वारा बनवाया गया था। 

यह किला वर्तमान में राजा पीलू वीरू सिंह का निवास स्थान है। 

इस किले में एक संग्रहालय भी है। 

जहाँ आपको पुरानी अमेरिकी कारों का संग्रह, हाथी दाँत वर्क, मध्यकालीन वेशभूषा और एक विशाल खगोलीय घड़ी देखने को मिलेगी। 

यह किला वाराणसी में घूमने की जगह में से एक प्रमुख जगह है। 

सारनाथ

Sarnath is the best place for baudhists
Sarnath

यह स्थान वाराणसी से 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। 

सारनाथ में ही भगवान गौतम बुद्ध ने अपना पहला उपदेश दिया था। 

सारनाथ बौद्ध धर्म के प्रमुख चार तीर्थ स्थलों में से एक है। 

भारत का राष्ट्रीय चिन्ह अशोक स्तंभ यहीं पर स्थित है। 

सारनाथ वाराणसी में घूमने की जगह में(Banaras Me Ghumne Ki Jagah) से एक है। 

यदि आप वाराणसी घूमने जाएँ तो सारनाथ अवश्य जाएं। 

यहाँ के प्रमुख पर्यटन स्थल चौखंडी स्तूप, अशोक स्तंभ, धूमल स्तूप, पुरातत्व संग्रहालय, मूलगंज कुटी बिहार, चीनी और थाई मंदिर एवं शामिल हैं। 

दशाश्वमेघ घाट  

Dashshwmegh Ghat Varanasi Me humne Ki jagah hai
Dashshwmegh Ghat Varanasi

दशाश्वमेघ घाट वाराणसी में घूमने की जगह(Best Tourist Place In Varanasi) में एक खास जगह है। 

यह घाट वाराणसी में स्थित गंगा घाट में से एक प्रमुख घाट है। 

हिंदू धर्म ग्रंथो के अनुसार ब्रह्मा ने यहाँ पर दशा अश्वमेध यज्ञ किया था।  

जिसमें 10 घोड़ों की बलि दी गई थी। 

दशाश्वमेघ घाट वाराणसी का प्रमुख तीर्थ स्थल है। 

यहाँ कई तरह के अनुष्ठान किए जाते हैं। 

प्रत्येक दिन शाम को यहाँ गंगा आरती की का आयोजन होता है। 

गंगा की आरती यहाँ का प्रमुख आकर्षण है। 

नया विश्वनाथ मंदिर

New Vishwanath Temple Varanasi me ghumne ki sundr jagah hai
New Vishwanath Temple Varanasi

यह मंदिर बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के परिसर में स्थापित किया गया है। 

इसका निर्माण भारत के सफल उद्यमी परिवार बिरला परिवार ने करवाया था। 

प्रतिदिन यहाँ आगंतुकों का आना-जाना बना रहता है। 

Lucknow Me Ghumne Ki Jagah | लखनऊ में घूमने की Best जगह

14+ जयपुर में घूमने की Best जगह | Jaipur Me Ghumne Ki Jagah

10+ अजमेर में घूमने की Top जगह | Ajmer Me Ghumne Ki Jagah

यहाँ 7 छोटे-छोटे मंदिर हैं जो कि अपनी खूबसूरती के लिए जाने जाते हैं। 

यदि आप वाराणसी घूमने जाएँ तो इस मंदिर को अवश्य देखने जाएँ। 

वाराणसी कैसे पहुँचे 

वाराणसी आप बस, ट्रेन, हवाई जहाज या खुद अपने वाहन से भी जा सकते हैं। 

यहाँ लाल बहादुर शास्त्री हवाई अड्डा स्थित है। 

जो देश के सभी प्रमुख शहरों के हवाई अड्डों से जुड़ा हुआ है। 

इसके अलावा यहाँ का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन वाराणसी जंक्शन रेलवे स्टेशन है। 

जहाँ देश के सभी शहरों से ट्रेन आती और जाती है। 

इसके अलावा वार्षिक देश के सभी हिस्सों से सड़क मार्ग द्वारा भी अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। 

वाराणसी जाने का सही समय

वाराणसी आप साल के किसी भी महीने में जा सकते हैं। 

यहाँ स्थित मंदिरों में अलग-अलग समय पर अलग-अलग तरह के अनुष्ठान होते रहते हैं। 

जिनके अनुसार भी आप यहाँ जा सकते हैं। 

वाराणसी घूमने का खर्चा

वाराणसी में घूमने के लिए प्रति व्यक्ति 7000 से 10000 रुपए तक का खर्चा हो सकता है। 

एक खर्चा आपका कम या ज्यादा भी हो सकता है। 

यह खर्चा आपके खाने-पीने, रुकने और घूमने के साधनों पर निर्भर करेगा।

FAQs

वाराणसी किस राज्य में स्थित है?

उत्तर प्रदेश राज्य में स्थित वाराणसी हिंदूओं का प्रमुख तीर्थ स्थल है। जो गंगा नदी के किनारे बसा हुआ है।

वाराणसी क्यों प्रसिद्ध है?

गंगा के किनारे स्थित वाराणसी शहर अपने सुंदर-सुंदर घाटों और मंदिरों के लिए जाना जाता है। वाराणसी में कई एक घाट और मंदिर हैं। वाराणसी भारत में शिक्षा का प्रमुख भी है।

वाराणसी का सबसे प्रसिद्ध मंदिर कौन सा है?

काशी विश्वनाथ मंदिर वाराणसी का प्रसिद्ध मंदिर है। जो कि भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक है।

वाराणसी में घूमने लायक कौन-कौन सी जगह हैं?

घाटों और मंदिरों का शहर के नाम से प्रसिद्ध वाराणसी में घूमने लायक कई मंदिर और घाट हैं। जिसमें अस्सी घाट, मणिकर्णिका घाट, दशाश्वमेघ घाट, नया काशी विश्वनाथ मंदिर और भारत माता मंदिर वाराणसी प्रमुख घूमने की जगह हैं।

वाराणसी में कौन-कौन से प्रमुख घाट हैं?

अस्सी घाट, मणिकर्णिका घाट और दशाश्वमेघ घाट वाराणसी के प्रमुख घाट हैं।

वाराणसी किस नदी के किनारे स्थित है?

गंगा नदी के किनारे स्थित वाराणसी शहर बाबा विश्वनाथ की नगरी के नाम से भी जाना जाता है।

वाराणसी में कौन सा हवाई अड्डा है?

लाल बहादुर शास्त्री हवाई अड्डा वाराणसी में स्थित है। जो देश के सभी प्रमुख शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है।

वार्षिक का प्रसिद्ध व्यंजन कौन सा है?

बाटी चोखा और कचौड़ी सब्जी वाराणसी के प्रसिद्ध व्यंजन है।

वाराणसी का सबसे अच्छा बाजार कौन सा है?

खरीददारी के लिए विश्वनाथ नगरी गली और ठठेरी बाजार वाराणसी में प्रसिद्ध बाजार हैं।

वाराणसी में कौन सा रेलवे स्टेशन है?

वाराणसी जंक्शन रेलवे स्टेशन वाराणसी का प्रमुख रेलवे स्टेशन है।

3 thoughts on “Varanasi Me Ghumne Ki Jagah | वाराणसी में घूमने की जगह”

  1. आपने काफी अच्छा आर्टिकल लिखे है बनारस में घूमने के बारे में इससे मुझे आपने बनारस में घूमने की याद आ गए | इसपे एक शायरी लिख देता हूँ – हमने तेरे शहर की रौनत भी देखी है पर बनारसी ठाट के आगे सब फीका है |

    Reply

Leave a Comment

तमिलनाडु: दक्षिण भारत का रत्न, अनंत आकर्षणों का खजाना | Tamilnadu Tourism राजस्थान के खूबसूरत महल जिन्हें देखकर आप भी कहेंगे वाह! 6+ उड़ीसा में घूमने की शानदार जगह | Odisha Me Ghumne Ki Jagah गोकर्ण बीच ट्रेकिंग: प्रकृति प्रेमियों के लिए स्वर्ग | Gokarna Me Beach Trekking 6 अमृतसर में घूमने की शानदार जगह | Amritsar Me Ghumne Ki Jagah
तमिलनाडु: दक्षिण भारत का रत्न, अनंत आकर्षणों का खजाना | Tamilnadu Tourism राजस्थान के खूबसूरत महल जिन्हें देखकर आप भी कहेंगे वाह! 6+ उड़ीसा में घूमने की शानदार जगह | Odisha Me Ghumne Ki Jagah गोकर्ण बीच ट्रेकिंग: प्रकृति प्रेमियों के लिए स्वर्ग | Gokarna Me Beach Trekking 6 अमृतसर में घूमने की शानदार जगह | Amritsar Me Ghumne Ki Jagah
तमिलनाडु: दक्षिण भारत का रत्न, अनंत आकर्षणों का खजाना | Tamilnadu Tourism राजस्थान के खूबसूरत महल जिन्हें देखकर आप भी कहेंगे वाह! 6+ उड़ीसा में घूमने की शानदार जगह | Odisha Me Ghumne Ki Jagah गोकर्ण बीच ट्रेकिंग: प्रकृति प्रेमियों के लिए स्वर्ग | Gokarna Me Beach Trekking 6 अमृतसर में घूमने की शानदार जगह | Amritsar Me Ghumne Ki Jagah